Latest video

  Testimonial

  What we do

निःशुल्क गणवेश वितरण योजना

निःशुल्क गणवेश वितरण योजना का क्रियाव्यन स्कूल शिक्षा विभाग/लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा किया जाता है। येजना अंतर्गत जिलें के समस्त शासकीय विद्यालाओं में प्रभावी रहता है। योजना का उद्देश्य:- प्रारंभिक शिक्षा के लोक व्यापीकरण के लिए समस्त शासकीय,अनुदान प्राप्त एवं अशासकीय विद्यालाओं के कक्षा 1 के 10 में अध्ययनरत समस्त बालक एवं बालिकाओं को निःशुल्क पाठ्यपुस्तकें उपलब्ध करवा कर उन्हें शाला जाने हेतु प्रेरित और प्रोत्साहित करना। क्र. कक्षा जाति हितग्राही प्रदायकर्ता 1 1 से 5 तक अनुसूचित जाति एवं जनजाति बालिकाएं लोक शिक्षण संचालनालय 2 1 से 8 तक गरीबी रेखा के ऊपर (APL) बालक लोक शिक्षण संचालनालय 3 1 से 5 तक अनुसूचित जाति एवं जनजाति बालक सर्व शिक्षा अभियान 4 6 से 8 तक अनुसूचित जाति एवं जनजाति बालक एवं बालिकाएं दोनों सर्व शिक्षा अभियान 5 1 से 8 तक गरीबी रेखा के ऊपर (APL) बालिकाएं सर्व शिक्षा अभियान 6 1 से 8 तक सामान्य एवं पिछड़ी जाती गरीबी रेखा के नीचे (BPL) बालक एवं बालिकाएं दोनों सर्व शिक्षा अभियान

निःशुल्क पाठ्यपुस्तक वितरण योजना:-

योजना का क्रियाव्यन स्कूल शिक्षा विभाग/लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा किया जाता है। येजना अंतर्गत जिलें के समस्त शासकीय,अनुदान प्राप्त तथा अशासकीय विद्यालाओं में प्रभावी रहता है। योजना का उद्देश्य:- प्रारंभिक शिक्षा के लोक व्यापीकरण के लिए समस्त शासकीय,अनुदान प्राप्त एवं अशासकीय विद्यालाओं के कक्षा 1 के 10 में अध्ययनरत समस्त बालक एवं बालिकाओं को निःशुल्क पाठ्यपुस्तकें उपलब्ध करवा कर उन्हें शाला जाने हेतु प्रेरित और प्रोत्साहित करना।

निःशुल्क सरस्वती सायकल वितरण योजना

निःशुल्क सरस्वती सायकल वितरण योजना:- योजना का क्रियाव्यन स्कूल शिक्षा विभाग/लोक शिक्षण संचालनालय/सर्व शिक्षा अभियान द्वारा किया जाता है। येजना अंतर्गत जिलें के समस्त शासकीय,अनुदान प्राप्त विद्यालाओं में प्रभावी रहता है। योजना का उद्देश्य:- प्रशासकीय विद्यालयों एवं अनुदान प्राप्त अशासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत कक्षा ९वीं की अनुसूचित जाति / जनजाति एवं गरीबी रेखा के नीचे (बी.पी.एल.) की छात्राओं को शाला तक आवागमन की सुविधा प्रदान करना एवं बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करना।

मध्याह्न भोजन

मध्याह्न भोजन छत्तीसगढ़ सरकार की एक बहुआयामी कार्यक्रम है । जो की अन्य बातों के अलावा, खाद्य सुरक्षा ,पोषण और शिक्षा के लिए उपयोग की कमी के मुद्दों का समाधान चाहता है। इसमे स्थानीय निकाय, शिक्षा गारंटी योजना (ईजीएस) , वैकल्पिक नवाचारी शिक्षा (एआईई) सेंटर, सर्व शिक्षा अभियान के तहत समर्थित मदरसा और श्रम मंत्रालय द्वारा चलाए गये राष्ट्रीय बाल श्रम परियोजना (एनसीएलपी) स्कूलों में प्राथमिक और उच्च प्राथमिक कक्षाओं में बच्चों के लिए कार्य दिवसों पर मुफ्त भोजन के लिए प्रावधान शामिल है इस योजना का मूल उद्देश्य प्राथमिक,उच्च प्राथमिक कक्षाओं के बच्चों को गर्म पका पकाया भोजन उपलब्ध कराना है। इस योजना का अन्य उद्देश्य बच्चों के पोषण की स्थिति में सुधार लाना, गरीब बच्चों को प्रोत्साहित करना, नियमित रूप से स्कूल जाने, कक्षा की गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करने, नामांकन और प्रतिधारण को बढ़ावा देना है।

विद्यार्थी बीमा योजना (Student Insurance)

इस योजना के तहत दुर्घटना बीमा की सुरक्षा सरकारी और कॉलेज स्तर पर सहायता प्राप्त प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले लड़के और लड़की छात्र को प्रदान की गई है। जिसमें 10000/- रुपए की सहायता आकस्मिक मृत्यु, पूर्ण विकलांगता या स्थायी विकलांगता के मामले में और 5000/- रुपए की सहायता शरीर के अंग फ्रैक्चर या आंशिक विकलांगता के मामले में और 500 रुपए की सहायता उपचार के लिए दिया जाता है

छात्रवृत्ति

01- राज्य छात्रवृत्ति कक्षा 01 से 12 तक:- राज्य छात्रवृत्ति योजना अन्तर्गत 1 ली से 12 वी तक के विद्याथियो का पंजीयन संचालक लोक f”kक्षण संचालनालय छ0ग0 नया रायपुर द्वारा छत्तीसगढ छात्रवृत्ति पोर्टल के माध्यम से Schoolscholarship.cg.nic.in पर आनलाईन किया जाता है जिसमें सभी शालाआं को User Id / User Password पृथक-पृथक प्रदान किया गया है। छात्रवृत्ति की पात्रता समस्त शासकीय/अशासकीय अनुदान प्राप्त शालाओ में अध्ययनरत् छात्र-छात्रा होते है जिनका आय जाति प्रमाण पत्र स़क्षम अधिकारी से बना हो । 02- अस्वच्छ धंधा छात्रवृत्ति:- अस्वच्छ धंधा छात्रवृत्ति जाति के आधार पर देय नही है अपितु व्यवसाय आधरित है भारत शासन की गाईड लाईन अनुसार निम्नानुसार अस्वच्छ धधे में लगे परिवारो के बच्चो को इस छात्रवृत्ति की पात्रता हैः- 01 शुष्क शौचालयों से मैला सफाई कार्य 2- मरे जानवर का चमडा निकालना 3- चमडो की रंगाई व शोधन 4- कचरा बिनने का कार्य में लगे हो। 03 गणित-विज्ञान छात्रवृत्ति:- यह छात्रवृत्ति उन छात्रों को दी जाएगी जो कक्षा 10वीं की छग माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा संचालित बोर्ड परीक्षा में 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त कर उत्तीर्ण हुए हों और जिन्होने कक्षा 11वीं में विज्ञान या गणित विषय का चयन किया हो। कक्षा 11वीं में पढने वाले जो छात्र यह छात्रवृत्ति प्राप्त कर रहे हैं वे यदि इस कक्षा में 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करते है तो छात्रवृत्ति उन्हे कक्षा 12वीं में भी मिलती रहेगी। दिव्यांग वर्ग के विद्यार्थियों को निर्धारित प्राप्ताकों की सीमा में 10 प्रतिशत की छुट दी जाएगी दिव्यांग हेतु सक्षम अधिकारी का प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया जाना आवश्यक है। 04 राष्ट्रीय प्रतिभा खोज छात्रवृत्ति (NMMSS):- राष्ट्रीय साधन.सह.योग्यता छात्रवृत्ति योजना मई 2008 में शुरू की गई एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है जो की कक्षाओं के मेधावी छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने से संबन्धित है। इस योजना का विवरण राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल एनएसपीद्ध पर दिया गया है। उद्देश्यरू आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मेधावी छात्रों द्वारा आठवीं कक्षा में पढ़ाई के छोड़ने को रोकने अपने अध्ययन को जारी रखने और माध्यमिक स्तर तक की पढ़ाई को पूरा करने हेतु प्रोत्साहित करने के लिए छात्रवृत्ति प्रदान करना]छात्रवृत्ति की राशिरू इस योजना के तहत छात्रवृत्ति की राशि 12000 प्रति छात्र प्रति वर्ष है । 05- मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजनाः- मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजना के तहत CGBSE, CBSE एंव ICSE बोर्ड के कक्षा 10वीं एंव 12वीं की मेरिट में आये वर्ग के विद्यार्थियों की योजना के लक्ष्य की सीमा में रू.15000 से प्रोत्साहित किया जाता है।

RTE

निशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार RTE 2009 भारत सरकार द्वारा नागरिकों को प्रदान किए गए 6 मौलिक आधिकारो में से एक संस्कृति और शिक्षा सम्बन्धी अधिकार के अंतर्गत लागू किया गया एक प्रावधान है। इस एक्ट के अनुसार 6.14 वर्ष तक की आयु वाले बच्चों को निःशुल्क तथा अनिवार्य शिक्षा के लिए क़ानूनी अधिकार प्राप्त है। 1 भारत के संविधान (86वां संशोधन, 2002) में आर्टिकल-21ए में सम्मिलित । 2 शिक्षा का अधिकार अधिनिमय से 1 अप्रेल 2010 से संपूर्ण भारतवर्ष के साथ-साथ छत्तीसगढ़ में लागू (जम्मू-कश्मीर छोड़कर) 3 इसके अंतर्गत 6 से 14 वर्ष से सभी बच्चों को उनके नजदीक के सरकारी स्कूलों में निःशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा देने का प्रावधान। 4 यहां निःशुल्क शिक्षा- स्कूल की फीस, यूनिफार्म और पुस्तक निःशुल्क। 5 धारा 12, के 1 (सी) के अंतर्गत निजी शालाओं में गरीब वंचित वर्ग के बच्चों के लिये 25 प्रतिशट सीटों का आरक्षण। 6 वर्तमान में जिले अंतर्गत लगभग 10,000 विद्यार्थी लाभान्वित। 7 आर.टी. के तहत प्रवेशित बच्चों को शासन द्वारा निर्धारित देय राशि - पाठयपुस्तक 250.00 रू. गणवेश 541.00 रू. 8 आर.टी.ई. के तहत निजी संस्थाओं को शासन द्वारा निर्धारित देय राशि (प्रतिपूर्ति राशि) प्राथमिक 7000.00 माध्यमिक 10400.00 हाईस्कूल 15000.00

  Our awesome Teachers and Students

  Notice    All Notice

Section Notice by Subject Release Date Download
12th Model Paper DEO class 12 th POLITICAL SCIENCE 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th PHYSICS 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th MATHS 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th ACCOUNTANCY 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th HISTORY 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th HINDI 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th GEOGRAPHY 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th ENGLISH 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th ECONOMICS 2021-02-17
12th Model Paper DEO class 12th CHEMISTRY 2021-02-17